Monday, October 11, 2021

शरद पूर्णिमा के अवसर पर खीर बनाने के लिए सामग्री और विधि

शरद पूर्णिमा 2021 - 19 October 2021   

खीर बनाने के लिए आवश्यक सामग्री सामग्री  और उनका अनुपात  :
                                                                                                        मूल्य 
  1. 10 किलो देशी गाय का दूध                                   10 x 60   = 600
  2. एक किलो टुकड़ी चावल - धो कर भिगोये हुए         1  x  50   =   50
  3. 1.5 किलो देशी खांड (नोट : चीनी हानिकारक है )  1.5 x 80 =  120
  4. 25 इलाइची - मिक्सी में पीसी हुई                               25 x 1 =   25    
  5. 100 ग्राम चिरोंजी                                                                =  220
  6. 100 ग्राम किशमिश - धो कर भिगोई हुई                              =    50  
  7. तीन सूखे नारियल - कद्दूकस किये हुए                   3 x 40   =  120
  8. पेपर प्लेट  , चम्मच                                                             =   100
  9. केवल लोहे की बड़ी कढाई 
  10. पलटा  या बड़ा चम्मच 
  11. गैस चुल्हा और सिलिंडर और माचिस                                   =   50
  12. मगज  (खीरा , खरबूजा , तरबूज , ककड़ी , पेठा )                   = ??? ( optional) 
                                                        कुल अनुमानित लागत        = 1335 Rs
 

खीर बनाने में सावधानिया : 
  1. गरम तासीर के सूखे मेवे जैसे बादाम और काजू नहीं डालने 
  2. किशमिश की तासीर खट्टी होती है इसलिए लम्बे  समय तक नही टिक पायेगी।

खीर बनाने की विधि :
  1. लोहे की कढाई में दूध गर्म करके उसमे भिगो के रखे हुए चावल डाल दे 
  2. चावल पकने पर उसमें खांड डाल दें | और चम्मच से हिलाएं 
  3. अब इसमें इलाइची , चिरोंजी ,  कद्दूकस किया हुआ सुखा नारियल  मिला दें | 
  4. खीर बनने पर अंत में किशमिश मिला दें  
  5. खीर बनाते समय उसमें कुछ समय के लिए थोड़ा सोना या चाँदी मिला दें  अगर है तो । 
  6. खीर ठंडी तासीर की बनानी है तो पांचों मगज डाल दो  (खीरा , खरबूजा , तरबूज , ककड़ी , पेठा   ) । मगज धो कर छिलका उतार कर डालना थोड़ी देर पहले भिगो लेना ।


खीर खाने की विधि : 
  1. खीर को कम से कम 2 घंटे के लिए चन्द्रमा के प्रकाश में रख दें । 
  2. उस दिन के लिए कोई अन्य भोजन नहीं पकाएं, केवल खीर खाएं । हमें देर रात को भारी आहार नहीं लेना चाहिए इसलिए तदनुसार खीर खाएं । 
  3. शरद पूनम की रात में रखी गयी खीर को देवताओं  को भोग लगाने के बाद अगले दिन प्रसाद रूप में नाश्ते में भी ले सकते है ।
  4. ये प्रशाद सभी को दे ताकि सभी को इस औषधि का लाभ मिल सके | 

खीर खाने के लाभ : 
  1. शरद पूर्णिमा की खीर खाने से अस्थमा ठीक होता है 
  2. शरद पूनम रात  आध्यात्मिक उत्थान के लिए बहुत फायदेमंद है । इसलिए सबको इस रात को जागरण करना चाहिए अर्थात जहाँ तक संभव हो सोना नही चाहिए और इस पवित्र रात्रि में मंत्रो का जाप , ध्यान, कीर्तन करना चाहिए ।

Please write your comments below or email at SocialServiceFromHome@gmail.com

No comments:

Post a Comment